Print
PDF

डी. ए. वी. कॉलेज के डॉ. बलवेन्द्र सिंह रहे मुख्य वक्ता

भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् के लुधियाना स्थित 

  'केन्द्रीय कटाई-उपरान्त अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी संस्थान' (सीफेट) में आज "एक-दिवसीय हिन्दी कार्यशाला" का आयोजन किया गया | कार्यशाला में डी. ए. वी. कॉलेज, जालन्धर के प्राध्यापक डॉ. बलवेन्द्र सिंह मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित हुए |
इस अवसर पर डॉ. बलवेन्द्र सिंह ने "मानक हिंदी वर्तनी" और "हिंदी भाषा के माध्यम से रोज़गार की संभावनाएं" विषयों पर अपनी प्रस्तुतियां दीं | 
कार्यशाला में संस्थान के प्रभारी निदेशक डॉ. संजीव कुमार त्यागी, प्रमुख वैज्ञानिक एवं कार्यशाला- संयोजक डॉ. मृदुला और संस्थान के प्रशासनिक अधिकारी एवं हिंदी प्रभारी श्री राजकुमार ने सक्रिय उपस्थिति दर्ज कराई | इस एक-दिवसीय हिन्दी कार्यशाला में असम, तमिलनाडु, उत्तराखण्ड, उत्तरप्रदेश, हिमाचलप्रदेश, पंजाब व अन्य क्षेत्रों के वैज्ञानिकों और कर्मचारियों ने प्रतिभागिता की |